जहां किया था भगवान राम ने अहिल्या का उद्धार वहां की मिट्टी से होगा राम मंदिर का शिलान्यास

छपरा।विश्व सनातन संसद के संस्थापक अध्यक्ष डॉ विजय राज सिंह व शैलेश कुमार सिंह ने कहा कि जहां भगवान राम ने गौतम ऋषि की श्रापित पत्नी अहिल्या का उद्धार किया था वही सरयू तट मांझी गौतम स्थान से आज विश्व सनातन संघ के स्वयंसेवकों ने राम मंदिर के शिलान्यास के लिए मिट्टी पर सरयू नदी का पवित्र जल भेजा है.विश्व सनातन संसद छपरा की तरफ से आज मांझी रामघाट पर प्रभु श्री रामजन्मभूमि अयोध्या के लिए जल और मिट्टी भेजने का कार्यक्रम किया गया । साथ ही साथ कोरोना के मद्देनजर रखते हुए समाजिक दूरी बनाते हुए विश्व सनातन संसद के सभी कार्यकर्ता को संगठन के बारे में विस्तार रूप से बताया गया तथा संगठन के सदस्यता अभियान को और तेजी लाने एव प्रत्येक घर में सदस्य बनाया जाएगा इसका संकल्प लिया गया, जिसका अध्यक्षता जिला सचिव हरेन्द्र सिंह जी, मांझी विधानसभा अध्यक्ष मनीष सिंह जी एवं मिडिया प्रभारी अंकित सिंह जी के द्वारा किया गया तथा धन्यवाद ग्यापन जिला अध्यक्ष विकेश प्रताप सिंह एवं जिला प्रवक्ता अमृत सिंह जी के द्वारा किया गया।जिसमे सभी विश्व सनातन संसद के सदस्य सामिल रहे ।सनातन भाईचारा समाजिक समरसता बनाए रखने की अपील भी किया गया और दिनांक 5 अगस्त 2020 को सभी सभी हिंदू भाइयों के घरों में दीपोत्सव हो इसके विषय में भी सभी को संकल्पित किया गया की हर कोई अपने घरों पर ही रह कर कम से कम पांच दीप को जलाएं और भगवान श्री राम जी की आराधना करें आपको पता होगा की 493 साल से चल रही लड़ाई के बाद यह मंदिर बनाने का आदेश मिला है इस खुशी को हम लोग दीप प्रज्वलित करके अपने घर में रहकर ही इस महापर्व को मनाएंगे।
अंत में धन्यवाद ज्ञापन जिलाध्यक्ष विकेश प्रताप सिंह एवं जिला प्रवक्ता अमृत सिंह जी के द्वारा किया गया, जिसमें मुख्य रूप से उपस्थित विश्व सनातन संसद के सदस्य:-मृत्यंजय सिंह बिट्टू, अभिषेक सिंह, धर्मजीत सिंह, आदित्य सिंह, राजिव सिंह लडडू, शिवम शेठ, बिरेश जी, मोहित जी, सोनु चौधरी, प्रिंस चौधरी, सूरज चौधरी, विक्की कुमार, निरज सिंह, आशिष शर्मा, विक्की चौधरी, संजीत ठाकुर, राजा ठाकुर, रवि मिश्रा, आशिष सिंह, अमित कुमार, अभिषेक ठाकुर, चन्द्रबली सिंह, अजित सिंह राणा, अंकित राजपूत एवं सैकड़ों युवा उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *